Sunday, February 25, 2018
User Rating: / 0
PoorBest 

 

ramnavmi
राम सेवा सम्मान सहित कुम्भ सेवा सम्मान से किया जाएगा राम भक्तों को अलंकृत
राम सेवा तथा कुम्भ राम सेवा सम्मान घोषित
कुम्भ में एकत्र असंख्य राम नाम की परिक्रमा कर सकेंगे भक्तगण

अकेले राम सेवा ही नहीं अपितु नि:स्वार्थ भाव से समाज सेवा, पर्यावरण रक्षा आदि करने वाले को रामनवमी के अवसर पर राम सेवा ट्रस्ट एवं राम नाम सेवा संस्थान द्वारा राम सेवा सम्मान से अलंकृत किया जाता है। इस सम्मान को पाने के लिए राम भक्तों में विशेष उत्साह रहता है। संवत 2070, रामनवमी की पूर्व संध्या पर राम सेवा सम्मान 76 वर्षीय अधिवक्ता जगत नारायण अग्रवाल, 51 वर्षीय उपमा अग्रवाल एवं 52 वर्षीय आभा अग्रवाल को प्रदान जाएगा। महाकुम्भ 2013 के दौरान जिन राम भक्तों ने राम सेवा के साथ कुम्भ में सामाजिक कार्य सहित पालीथिन का प्रयोग से कुम्भ मेले क्षेत्र को मुक्त रखने का प्रयास स्वयं किया व करवाया, ऐसा विशिष्ट कार्यों के लिए राम भक्तों में से चयन कर दो भक्तों को कुम्भ सेवा सम्मान से अलंकृत किया जाएगा।

राम नाम सेवा संस्थान की अध्यक्ष गुंजन वाष्र्णेय के अनुसार कुम्भ में महत्वपूर्ण योगदान के लिए गायिका श्वेता बाहेती तायल एवं समाजसेवी दीपक गुप्ता को कुम्भ राम सेवा सम्मान से रामनवमी की पूर्व संध्या पर अलंकृत किया जाएगा। इस अवसर पर कौमी एकता एवं आपसी भाईचारे के लिए राम नाम बैंक में हिन्दु, मुसलिम, सिख, ईसाई, सभी धर्मों के खाताधारक उपसिथत रहेंगे। प्रत्येक व्यकित जिसने सवालाख की संख्या राम नाम लिखकर पूर्ण की है, उन्हें संस्थान द्वारा अंगवस्त्र एवं प्रशसित पत्र देकर सम्मानित किया जाएगा, यह जानकारी संस्था के आशुतोष वाष्र्णेय ने दी। संस्था की वर्षों पुरानी परम्परा है कि रामनवमी की पूर्व संध्या तक सभी खातों में अंकित राम नाम की गणना कर सर्वाधिक राम नाम लिखने वाले अथवा नि:स्वार्थ भाव से कार्य करने वाले राम भक्त को रामनवमी पर सम्मानित किया जाता है। एकत्र राम धन में इलाहाबाद शहर के ही नहीं बलिक आस-पास के जिले से लेकर लगभग सभी शहरों के राम भक्तों द्वारा राम नाम का संग्रह किया जाता है। कुम्भ के दौरान अनेक विदेशी खातेधारक भी भगवान राम के शरणागत हुए, नीदरलैंड, अमेरिका में बैठकर भक्तों के द्वारा लिखे गए राम नाम तथा बांग्ला, हिन्दी, उदर्ू आदि अनेक भाषाओं में एवं विभिन्न आकृति जैसे ओम, त्रिशूल, शिव आदि के रूप में अंकित राम नाम भी संस्था के राम नाम कोष में समिमलित हैं। कम से कम भक्त सवा लाख अथवा मनोकामना के अनुसार जिसका जो भी लक्ष्य हो, पूर्ण कर भक्तगण लाल अथवा पीले कपड़े में लपेटकर रामनवमी से पूर्व जमा करते हैं। प्रत्येक वर्ष तीन राम भक्तों को राम सेवा सम्मान दिया जाता है जिसमें न केवल सर्वाधिक लिखने वाले को ही नहीं बलिक निष्काम समाज सेवा, राम सेवा, दरिद्र नारायण सेवा करने वालों को भी समिमलित किया जाता है। आशुतोष वाष्र्णेय के अनुसार नन्हे-मुन्ने बच्चों से लेकर बुजुर्गों ने राम नाम लिखकर सराहनीय कार्य किया है। युग-युगांतर से ब्रहमाण्ड में व्याप्त ईश्वरीय शकित को माला के विशेष क्रम, विशेष नियम-संयम, मंत्र से जागृत कर निशिचत संख्या में राम नाम के द्वारा राम कृपा ने कार्य सिद्ध कर मनोकामनाएं पूर्ण की हैं। इस बार रामनवमी के अवसर पर विश्व शांति, कौमी एकता एवं आपस में सदभाव, भाईचारे के लिए हिन्दु, मुसलिम, सिख, ईसाई राम नाम बैंक के खातेधारकों द्वारा राम नाम पुसितका सहित नि:शुल्क लाल कलम वितरित की जाएगीं। कुम्भ के दौरान संगम के अक्षय क्षेत्र में एकत्रित राम नाम की परिक्रमा करना अनन्त कोटि पुण्यप्रदायक एवं मनोकामना पूरक माना गया है। रामनवमी के उपलक्ष्य में भक्तगण इन संरक्षित राम नाम की परिक्रमा कर न केवल कुछ माह पूर्व सम्पन्न हुए कुम्भ की यादों को संजोऐंगे बलिक पुण्य प्रताप भी अर्जित करेंगे।

• वर्ष 2012 में राम सेवा सम्मान से अलंकृत भक्त - 

anil agarwal
अनिल अग्रवाल

upendra prasad
सेवानिवृत्त कैप्टन उपेन्द्र प्रसाद


• वर्ष 2013 में राम सेवा सम्मान से अलंकृत किए जाऐंगे ये भक्त -

jagat narayan
जगत नारायण अग्रवाल

upma agarwal
उपमा अग्रवाल

abha agarwal
आभा अग्रवाल

• विशेष कुम्भ राम सेवा सम्मान से अलंकृत किए जाऐंगे ये भक्त -

deepak gupta
दीपक गुप्ता

shweta baheti tayal
प्रसिद्ध गायिका श्वेता बाहेती तायल

 

Add comment

We welcome comments. No Jokes Please !

Security code
Refresh

Astrology

Who's Online

We have 3078 guests online
 

Visits Counter

783298 since 1st march 2012