Wednesday, February 21, 2018
User Rating: / 0
PoorBest 

माघ पूर्णिमा 2018 : जानें मुहूर्त और पूजा विधि, क्यों मनाई जाती है यह पूर्णिमा

नई दिल्ली: इस साल का पहला चंद्रग्रहण आ गया. साल 2018 में ऐसा पहली बार हो रहा है जब एक ही दिन में माघ पूर्णिमा, चंद्रग्रहण, सुपर मून और ब्लू मून पड़ रहे हैं. माघ पूर्णिमा हर साल इलाहाबाद के संगम पर बड़ी ही धूमधाम से मनाई जाती है. इस दिन जप, यज्ञ, स्नान सभी कुछ होता है. इस पूर्णिमा के लिए एक महीने पहले पौष पूर्णिमा से ही मेले की शुरुआत हो जाती है. आपकों बता दें माघ पूर्णिमा के दिन संत रविदास जयंती, श्री ललित और श्री भैरव जयंती भी मनाई जाती है.

माघ मेला 2018: भारी संख्या में पहुंचे श्रद्धालु, 6 स्नान पर्वों की तैयारी

इस बार संगम पर 6 प्रमुख पर्व मनाए गए हैं, जिसमें से पांचवा पर्व माघ पूर्णिमा के लिए होगा. 2 जनवरी को पौष पूर्णिमा से शुरूआत होने के बाद 14 जनवरी को मकर संक्रांति, 16 जनवरी को अमावस्या, 22 जनवरी को बसंत पूर्णिमा और 31 जनवरी को माघ पूर्णिमा को यह 5 पर्व मनाएं जाएंगे. लेकिन 13 फरवरी को आने वाली महाशिवरात्रि के दिन भी यहां करोड़ों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचने वाले हैं. इसीलिए कुल यहां 6 स्नान पर्व मनाएं जाएंगे. यहां जानें माघ पूर्णिमा से जुड़ी सभी बातें कि यह किस समय और कैसे करें पूजा.

राजिम कुंभ : ढाई लाख दीयों और 1500 शंखों से शुरू होगा मेला

माघ पूर्णिमा का 2018 मुहूर्त
माघ पूर्णिमा का आरंभ 30 जनवरी, 2018 को 11 बजकर 24 मिनट और 5 सेकेंड पर शुरू होकर 31 जनवरी, 2018 को 6 बजकर 57 मिनट और 43 सेकेंड पर समाप्त होगा.

ऐसे करें पूजा और व्रत:
1. सबसे पहले इस दिन सूरज उगने से पहले स्नान करें.
2. स्नान खत्म करते ही सुर्य मंत्र का उच्चारण करते हुए सूर्य देव को जल चढ़ाएं.
3. जल चढ़ाने के बाद व्रत का संकल्प लें और भगवान मधुसूदन की पूजा करें.
4. दिन में गरीबों और ब्राह्मणों को भोजन कराकर दान और दक्षिणा दें.
5. दान में काले तिल विशेषकर दें. इससे पितरों को शांति मिलती है.

क्या होता है महत्व
ऐसा माना जाता है कि माघ महीने में सभी देवता पृथ्वी पर आते हैं. इस दिन वह सभी संगम पर स्नान, दान और जप करते हैं. इसी वजह से माघ पूर्णिमा मनाने लाखों भक्त इलाहाबाद के संगम पर पहुंचते हैं और यहां स्नान, मेले, जप, यज्ञ का आनंद लेते हैं. साथ ही यह भी मान्यता है कि इस दिन गंगा स्नान करने से दुख-दर्द दूर हो जाते हैं और सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं.

magh purnima 2018

यहां जानें इस दिन पड़ने वाले चंद्र ग्रहण, सुपर मून और ब्लू मून के बारे में:
साल 2018 का पहला चंद्रग्रहण
31 जनवरी को साल 2018 का पहला चंद्रग्रहण होगा. यह पूर्ण चंद्रग्रहण 77 मिनट तक रहेगा. इसका समय शाम 5.58 मिनट पर शुरू हो रहा है जो रात 8.41 तक चलेगा. यहां क्लिक करके जानें क्या होता है चंद्रग्रहण और कैसे हुई इसकी शुरूआत... 31 जनवरी को द‍िखेगा साल का पहला चंद्र ग्रहण, नहीं करने चाहिए ये 3 काम

जानें क्या है सुपर मून
31 जनवरी को होने वाले सुपर मून के दौरान चांद धरती के निकटतम दूरी पर होगा. यह चांद सामान्य से 14 फीसदा ज्यादा चमकीला दिखेगा और एक ही महीने में दो बार पूर्णिमा होगी, ऐसी घटना आमतौर पर ढाई साल बाद होती है. यहां क्लिक करके जानें इसके बारे में सब कुछ.

क्या होता है ब्लू मून
NASA के मुताबिक, ब्लू मून हर ढाई साल में एक बार नजर आता है. स्पेस डॉट कॉम की खबर के मुताबिक चंद्रमा का नीचे का हिस्सा ऊपरी हिस्से की तुलना में ज्यादा चमकीला दिखाई देता है और नीली रोशनी फेंकता है. 31 जनवरी 2018 के बाद ये 2028 और 2037 में देखने को मिलेगा. साल 2018 में दिखेगा पहला नीला चांद, 14 फीसदा ज्यादा चमकीला और धरती के बहुत नजदीक

Courtesy: Khabar NDTV

Add comment

We welcome comments. No Jokes Please !

Security code
Refresh

culture

Who's Online

We have 10925 guests online
 

Visits Counter

781893 since 1st march 2012