Wednesday, November 22, 2017
User Rating: / 0
PoorBest 

udaseen-flag-1

इलाहाबाद। उदासीन संप्रदाय से जुड़े सभी महात्मा बुधवार को धर्मघ्वजा के नीचे आकर एक हुए। संन्यासियों की परंपरा के इतर पहले छावनी की स्थापना के बाद पंचायती अखाड़ा, बड़ा उदासीन, नया उदासीन की ओर से धर्मघ्वजा फहराई गई। धर्मघ्वजाओं के लहराते ही साधु संतो के चेहरे खिल गए और हर हर महादेव के जयकारे लगे।


अखाड़े के शिविर में सुबह से ही चहल-पहल थी। साधु संत सुबह से ही तैयारियों में जुटे थे। धर्मघ्वजा की लकड़ी का वैदिक मंत्रोच्चार के साथ पूजन हुआ। पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन की धर्मघ्वजा बावन हाथ की रही। लाल रंग की ध्वजा में एक ओर पवनपुत्र हनुमान तो दूसरी ओर वरदहस्त की मुुद्रा में पंजा की अनुकृति थी। धर्मघ्वजा को गंगाजल और पंचगव्य से स्नान कराया गया। आचार्य के पूजन के बाद उसे फहराया गया। पूजन के अंत में भगवान श्रीचंद्र के जयकारे लगाए गए। इस अवसर पर श्रीमहंत महेश्वरदास, महंत रघुमुनि, महंत दुर्गादास, महंत धर्मदास,जगतार मुनि आदि मौजूद रहे।


चांदी के हौदे पर मेला पहुंचे गोस्वामी समाज के संत

goswami-samaj

सनातन धर्म के कई अखाड़ों की पेशवाई के बाद बुधवार को अखिल भारतीय गोस्वामी महासभा के संतो की पेशवाई भी पुरी भव्यता के साथ निकली। प्रयाग कुंभ में यह पहला मौका था जब गृहस्थ संतों की पेशवाई निकली। लोहिया मार्ग से निकली पेशवाई में हाथी, घोड़ों और ऊंटों की सजावट देखते बन रही थी। रास्ते भर लोग टकटकी लगाए पेशवाई को निहारते रहे। पेशवाई का कई जगहों पर फूल मालाओं से स्वागत हुआ। चांदी के हौदों पर सबसे आगे जयसंद्वेश्वर महादेव त्रिपुरा भैरवी मठ वाराणसी के महंत आनंद शेखर गिरि, महंत निर्मल गिरि, महंत महेन्द्र गिरि आदि मौजूद थे।

शंकराचार्य स्वरूपानंद के शिविर का भूमि पूजन

शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती के शिविर का भूमि पूजन बुधवार को हुआ। सेक्टर 11 सिथत काली मार्ग में उनके शिविर के पूजन में सभी अखाड़ों के संत शामिल हुए। अगिन अखाड़े के महंत कैलाशानंद ब्रहमचारी और ज्योतिष्पीठ के श्रीधराचार्य ने विधि विधान से पूजन किया। स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद की मौजूदगी में भूमि पूजन के लिए कलश काशी से लाया गया।

Add comment

We welcome comments. No Jokes Please !

Security code
Refresh

Magh Mela 2014

Who's Online

We have 1615 guests online
 

Visits Counter

750264 since 1st march 2012