Wednesday, November 22, 2017
User Rating: / 0
PoorBest 

 

comm-meeting
कुंभ मेला के सफल आयोजन के लिए शासन द्वारा 25 विभागों को कुल 3623592010 रुपये धनराशि अवमुक्त की गयी थी। मण्डलायुक्त इलाहाबाद श्री देवेश चतुर्वेदी ने गत दिवस 06-03-2013 को संबंधित विभागों के अधिकारियों की बैठक लेते हुए निर्देश दिये कि जिन विभागों द्वारा आवंटित धनराशि के सापेक्ष धनराशि व्यय की गयी है उनकी अधावधिक सिथति एवं भौतिक सत्यापन का पूर्ण विवरण बनाकर तत्काल दें। उन्होंने कहा कि कुंभ मेला में विभिन्न मदों में खर्च किये गये धनराशि एवं कार्यों का विवरण प्रमाण सहित प्रस्तुत करें।

बैठक में आयुक्त ने पाया कि लोक निर्माण विभाग द्वारा सड़कों, पटरियों, चकर्ड प्लेटों आदि के लिए रु0 60.53 करोड़, सिंचार्इ विभाग को 7.23 करोड़, उत्तर प्रदेश पावर कार्पोरेशन लिमिटेड को 14.26 करोड़, राज्य सड़क परिवहन निगम को 12.29 करोड़, दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ (पराग) को 4.50 करोड़, सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग को 11.25 करोड़, आवास विकास परिषद को 14 लाख, पर्यटन सी0एन0डी0एस0 यूनिट-10 (उत्तर प्रदेश जल निगम) को 11.34 करोड़, वन विभाग को 1.57 करोड़, उधान विभाग को 58.26 लाख, आयुर्वेदिक विभाग को 33.38 लाख, स्वास्थ्य विभाग को 48.70 करोड़, होम्योपैथिक विभाग को 50 लाख, उ प्र जल निगम को 55.30 करोड़, गंगा प्रदूषण विभाग को 6.34 करोड़, नगर पंचायत झूंसी को 3.92 करोड़, इलाहाबाद प्राधिकरण को 3.94 करोड़, नगर निगम को 90.90 करोड़, खाध एवं आपूर्ति विभाग को 32 लाख, मण्डलायुक्त कार्यालय 9.96 लाख, पर्यटन विभाग को 2.69 करोड़, पुलिस विभाग को 10.23 करोड़, मेडिकल कालेज को 4.75 करोड़, कुंभ मेला प्रशासन को 9.90 करोड़, संस्कृति विभाग को 70 लाख रुपये अवमुक्त हुए हैं। बैठक में आयुक्त ने पाया कि अभी कुछ विभागों की धनराशि अवशेष है। उन्होंने सभी संबंधित विभागों को निर्देश दिये कि वे अवमुक्त धनराशि के सापेक्ष व्ययसमर्पण धनराशि व कार्य आदि के संबंध में तत्काल रिपोर्ट दें। 

बैठक में मेलाधिकारी श्री मणि प्रसाद मिश्र सहित सभी विभागों के अधिकारी आदि उपसिथत रहे।

 

Add comment

We welcome comments. No Jokes Please !

Security code
Refresh

Magh Mela 2014

Who's Online

We have 1501 guests online
 

Visits Counter

750264 since 1st march 2012