Wednesday, November 22, 2017
User Rating: / 0
PoorBest 

 


नई दिल्ली : सोमवार से शुरू हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र के हंगामेदार रहने के आसार हैं क्योंकि अनके विपक्षी दलों ने बीमा विधेयक का विरोध करने और काला धन के मुद्दे पर सरकार को घेरने का इरादा बनाया है।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शीतकालीन सत्र की पूर्व संध्या पर आयोजित सर्वदलीय बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि सभी महत्वपूर्ण मुद्दों पर मिलजुल कर संसद में आगे बढ़ा जा सकता है और उम्मीद जताई कि महीने भर चलने वाला यह सत्र भी बजट सत्र की भांति बहुत अच्छी तरह गुजरेगा।

सर्वदलीय बैठक के बाद संसदीय कार्य मंत्री वेंकैया नायडू ने बताया, 'प्रधानमंत्री ने कहा कि बजट सत्र अच्छी तरह गुजरा था और यह रचनात्मक और सफल था। हम आशा करते हैं कि शीतकालीन सत्र भी उसी तर्ज पर रहेगा।'

नायडू के अनुसार प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार सभी मुद्दों को लेने के लिए तैयार है । सामूहिक विवेक से, सभी दलों के मुद्दों को आगे बढाया जा सकता है। इस बैठक में 26 दलों के 40 नेताओं ने हिस्सा लिया। तृणमूल कांग्रेस और समाजवादी पार्टी की उपस्थिति नहीं थी।

वाम दलों, तृणमूल कांग्रेस, जनता दल यूनाइटेड, राष्ट्रीय जनता दल, समाजवादी पार्टी और बसपा ने बीमा विधेयक के विरोध का साझा मुद्दा बनाने का निर्णय किया है और व्यापक विपक्षी एकता के लिए कांग्रेस से उन्हें समर्थन देने को कहा है।

 

साभार: नव भारत टाइम्स

 

 

 

 

Miscellaneous

Who's Online

We have 1976 guests online
 

Visits Counter

750264 since 1st march 2012