Sunday, February 25, 2018
User Rating: / 0
PoorBest 

  


नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा चुनाव प्रचार में आम आदमी पार्टी (आप) पर एक के बाद एक हमला करने वाली भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के अध्यक्ष अमित शाह ने माना है कि केजरीवाल में मीडिया का ध्यान खींचने की ताकत ज्यादा है। एक टीवी चैनल से बातचीत के दौरान अमित शाह से पूछा गया था कि क्या आम आदमी पार्टी पर बीजेपी के हमले से केजरीवाल का कद बढ़ा है? इस सवाल के जवाब में अमित शाह ने कहा, ''केजरीवाल ने जो वादे किए थे, उसे वह पूरा नहीं कर पाए। इस बात को जनता के सामने रखना हमारा काम है। हमने 8 महीने में जो किया वो भी बताया है। केजरीवाल में मीडिया का ध्यान खींचने की क्षमता ज्यादा है।'' हालांकि, शाह ने भरोसा जताया कि बीजेपी दिल्ली चुनाव बहुमत से जीत रही है।
 
'केजरीवाल को गलत चंदा देने वाली कंपनियों पर होगी कार्रवाई'
बीजेपी अध्यक्ष ने कहा कि केजरीवाल की पार्टी आप को गलत तरीके से चंदा देने वाली कंपनियों पर सरकार जरूर कर्रवाई करेगी। उन्होंने कहा कि अभी मामले को सामने आए दो-तीन दिन ही हुए हैं। कंपनियों की जांच होगी। चुनाव बाद सरकार जरूर कार्रवाई होगी। उन्होंने यह भी कहा कि चुनावी फायदे से कार्रवाई का कोई लेना-देना नहीं। साथ ही उन्होंने यह भी स्पष्ट करने की कोशिश की कि बीजेपी हमेशा से अपने चंदे का हिसाब देती रही है। चुनाव आयोग ने कभी बीजेपी पर चंदे को लेकर सवाल नहीं उठाया है। दो करोड़ का चंदा लेने के मामले पर केजरीवाल की पार्टी पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा कि हमारी पार्टी में कोई चंदा आधी रात को नहीं आता। उन्होंने कहा कि आप नेता योगेंद्र यादव ने खुद प्रेस कांफ्रेंस में कहा था कि 10 लाख से ज्यादा का चंदा होने पर पार्टी की उच्च कमेटी फैसला लेती है, तो फिर फर्जी कंपनियों से दो करोड़ लेते वक्त जांच क्यों नहीं की गई। केजरीवाल द्वारा अपनी गिरफ्तारी की चुनौती देने पर शाह ने कहा कि वह खुद को बचाने और लोगों की सहानुभूति पाने के लिए ऐसा कह रहे हैं।
 
हर अकाउंट में 15 लाख रुपये चुनावी जुमला: शाह 
इस बीच कालेधन वापसी पर मोदी सरकार के कथित यू-टर्न मामले पर अमित शाह ने कहा, ''हर भारतीय के खाते में 15 लाख डालने की जो बात की गई थी, वह चुनावी जुमला था। काला धन कभी खाते में नहीं दिया जा सकता। पीएम के बयान का मतलब गरीबों के हित में परियोजनाएं लाने से था। चुनावी भाषण में वजन डालने के लिए कही गई बात है। यह सब समझ रहे हैं विरोधी नहीं समझ रहे हैं।''
 
विपक्षी पार्टियों ने साधा निशाना
अमित शाह के इस बयान के बाद केजरीवाल ने कहा कि कालाधन वापस लाने के मसले पर बीजेपी झूठ बोलते रही है। वहीं कांग्रेस नेता पूर्व केंद्रीय मंत्री आनंद शर्मा ने कहा कि ऐसा बयान देकर क्या अमित शाह यह कहने की कोशिश कर रहे हैं कि उनकी पार्टी ने लोकसभा चुनाव के दौरान देश के जनता को बेवकूफ बनाया?

साभार: दैनिक भास्कर 

 

 

 

Miscellaneous

Who's Online

We have 2527 guests online
 

Visits Counter

783180 since 1st march 2012