Friday, November 24, 2017
User Rating: / 1
PoorBest 

 allahabad university student neta

इविविे छात्रसंघ के अध्यक्ष पद के विजयी प्रत्याशी कुलदीप सिंह (मध्य में) समर्थकों के साथ।

इलाहाबाद : इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव में शोध छात्र कुलदीप सिंह उर्फ केडी ने जोरदार जीत दर्ज की। केडी ने एबीवीपी के राणा यशवंत प्रताप सिंह को 166 मतों से हराया। दिन भर की गहमागहमी के बाद रात आठ बजे चुनाव अधिकारी प्रो. रामकृपाल ने परिणामों की घोषणा की। परिणाम घोषित होते ही विश्वविद्यालय परिसर व आसपास जश्न का माहौल हो गया।

इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव में 26 नवंबर को मतदान हुआ था। हाईकोर्ट ने मतगणना पर रोक लगा दी थी। शुक्रवार को यह रोक समाप्त होने के बाद रविवार को मतगणना की गई। विजयी प्रत्याशियों को सोमवार की सुबह दस बजे छात्रसंघ भवन पर शपथ दिलायी जाएगी। पहली बार ओएमआर शीट पर हुए इस मतदान की गणना के लिए विशेष प्रबंध करने पड़े। इस चुनाव में अध्यक्ष पद पर कांटे की टक्कर रही। इसमें केडी ने जीत हासिल की।

                केडी को 2143 व राणा यशवंत को 1977 वोट मिले। सछास प्रत्याशी रोशनी यादव 1575 वोट के साथ तीसरे स्थान पर रहीं। उपाध्यक्ष पद पर विपिन सिंह ने इस चुनाव में सर्वाधिक अंतर से जीत हासिल करने का रिकार्ड बनाया। उन्हें 2127 वोट मिले जबकि जुनैद अली 1471 वोट के साथ दूसरे व सछास के महेश दयाल सिंह 1235 वोट के साथ तीसरे स्थान पर रहे। महामंत्री पद पर गौरव सिंह बादल 2431 वोट पाकर विजयी रहे। उन्होंने नवीन कुमार सिंह मिंटू को 346 वोट से हराया। मिंटू को 2085 वोट मिले। आइसा की अनुपमा चौधरी तीसरे स्थान पर रहीं। संयुक्त मंत्री पद पर अंकुश यादव 2690 वोट पाकर विजयी रहे। दूसरे स्थान पर 1980 वोट पाकर अनुराग सिंह व तीसरे स्थान पर 1271 वोट के साथ सक्षम सिंह रहे। सांस्कृतिक मंत्री पद पर 2177 वोट पाकर सत्यवंत यादव विजयी रहे। दूसरे नंबर पर प्रशांत सिंह (1690 वोट) व तीसरे स्थान पर अनिल कुमार पटेल (1252 वोट) रहे।

   upadhyash vipin                     maha mantri gaurav singh badal

उपाघ्यक्ष पद के विजयी प्रत्याशी विपिन                   खुशी जाहिर करते महामंत्री गौरव सिंह बादल

 

मतगणना स्थल से, 699 वोट अमान्य

 

          इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव परिणामों की घोषणा कर दी गई। सभी पदों के लिए हुई मतगणना में 699 वोट ऐसे पाए गए, जिन्हें गड़बड़ियों के चलते अमान्य करार दिया गया। हालांकि इनसे प्रत्याशियों की जीत पर कोई असर नहीं दिखा। सबसे ज्यादा अमान्य वोट सचिव पद में मिले। विश्वविद्यालय प्रशासन ने पहली बार आरोपों से बचने के लिए ओएमआर सीट के जरिए मतदान कराया था। रविवा र को मतगणना शुरू हुई अध्यक्ष में 48, उपाध्यक्ष में 138, महामंत्री में 73, सचिव में 328 और सांस्कृतिक मंत्री में 112 वोट अमान्य पाए गए। इनमें गड़बड़ियां पाए जाने पर उन्हें गिनती में शामिल नहीं किया गया।

 

परिणाम

 

अध्यक्ष पद: कुलदीप सिंह केडी’ 2143, राणा यशवंत प्रताप सिंह आजाद’ 1977, रोशनी यादव 1575, राघवेंद्र सिंह यादव 1358, अश्वनी कुमार अवस्थी 1041, दिलीप कुमार यादव सोनू’ 468, शेष नारायण ओझा 371, मधुकर मिश्र 328, दुर्गेश कुमार सिंह 1381

 

उपाध्यक्ष पद: विपिन सिंह 2627, जुनैद अली 1477, मोहर सिंह पटेल 1233, सत्येंद्र कुमार उपाध्याय गुडलक’ 1212, चंद्रजीत यादव 930, अरूण सिंह सोनू’ 686, राजेश कुमार भारतीय’ 553, अजीत सिंह यादव 498, जय प्रकाश 931

 

महामंत्री पद: गौरव सिंह बादल’ 2431, नवीन कुमार सिंह मिंटू’ 2085, आदर्श चौधरी 1904, अनुपमा चौधरी 1372, अजीत कुमार यादव बाला’ 834, अजमल महबूब 404, प्रमोद कुमार यादव 3441

 

सचिव: अंकुश यादव 2690, अनुराग सिंह 1980, सक्षम द्विवेदी 1271, शैलेंद्र मौर्या 1222, भोला नाथ सरोज 704, मोहम्मद सुफियान 434, मोहम्मद मेराज 420, दिव्य प्रकाश मौर्या 3981

 

सांस्कृतिक मंत्री: सत्यवंत यादव 2177, प्रशांत सिंह समाजसेवी’ 1690, अनिल कुमार पटेल 1252, सूर्य प्रकाश मिश्र सूरज’ 1115, सुमित कुमार दोहरे चित्रकार’ 886, अरविंद कुमार सरोज 829, अब्दुल राफे 575, रविकांत कुशवाहा राज’ 281, संदीप कुमार 181, धनजी कुमार बनवासी 145, यशवंत कुमार यदुवंशी’ 106, रवि कुमार कुशवाहा 98

 

छात्रसंघ चुनाव में दलों पर भारी निर्दलीय - अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, महामंत्री, संयुक्त सचिव पद पर निर्दलीयों ने फहराया परचम

 

रुचि ने बचाई आधी दुनियाकी लाज

 

इलाहाबाद विश्वविद्यायल छात्रसंघ चुनाव में प्रमुख पदों पर महिला प्रत्याशी विजय का वरण करने से चूक गई हैं। पिछले चुनाव में उपाध्यक्ष पद पर शालू यादव ने आधी दुनिया की लाज बचाई थी तो इस बार यूजी विज्ञान संकाय प्रतिनिधि के तौर पर रुचि यादव ने चुनाव जीतकर लाज महिलाओं की लाज रखी है। अध्यक्ष पद पर जोर शोर तरीके से समाजवादी छात्रसभा के पैनल से चुनाव लड़ने वाली रोशनी यादव तीसरे स्थान पर रहीं। उन्हें 1575 मत मिले। वहीं आइसा की अनुपमा चौधरी भी महामंत्री के पद पर चुनाव नहीं जीत सकीं। हालांकि अनुपमा ने सम्मानजनक 1372 मत पाकर चौथे स्थान पर रहीं। हालांकि सिर्फ तीन पदों पर एक-एक महिला प्रत्याशियों ने ही नामांकन किया।

 

          निर्दलीय उम्मीदवारों ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रसंघ चुनाव में तमाम बड़े दलों की गुणा-गणित पर पानी फेर दिया। छात्रसंघ चुनाव में कांग्रेस, सपा और वामपंथी विचारधारा समर्थित उम्मीदवारों को करारी शिकस्त मिली है। राजनीतिक दलों और धनबल-बाहुबल के दम पर छात्रसंघ चुनाव में किस्मत आजमाने वालों को भी मुंह की खानी पड़ी है। कांग्रेस, सपा के बड़े नेताओं और मठाधीशों की सारी कवायद भी धरी की धरी रह गई। तमाम प्रयास केबाद भी एनएसयूआइ, एबीवीपी, एआइडीएसओ, एसएफआइ का सूपड़ा साफ रहा। सपा समर्थित समाजवादी छात्रसभा का भी केवल एक ही उम्मीदवार जीत सका। आइसा की झोली भी खाली रही।

 

          अध्यक्ष पद पर शोध छात्र कुलदीप सिंह केडी ने भले की प्रतियोगी छात्र मोर्चा के समर्थन से चुनाव लड़ा पर उनपर किसी राजनीतिक दल की मेहरबानी नहीं रही। प्रतियोगी छात्र मोर्चा का राजनीति से कोई लेना देना नहीं। समाजवादी छात्र सभा के पैनल से अध्यक्ष के पद पर चुनाव लड़ने वाली रोशनी यादव तमाम कवायद के बाद भी रोशनी बिखेरने में सफल नहीं हो सकीं। आइसा के रघुनंदन सिंह यादव भी हार गए। अध्यक्ष पद पर एनएसयूआइ के उम्मीदवार शेष नारायण ओझा, एआइडीएसओ के दुर्गेश कुमार सिंह को हार का सामना करना पड़ा।

 

          उपाध्यक्ष पद पर विजयी विपिन सिंह भी निर्दलीय उम्मीदवार हैं। उन्होंने आइसा के जुनैद अली को हराया। सछास के मोहर सिंह पटेल तीसरे स्थान पर रहे। एबीवीपी के सत्य कुमार उपाध्याय गुडलक को चौथे स्थान से संतोष करना पड़ा। एनएसयूआइ के अरुण सिंह सोनू, एसएफआइ के जय प्रकार को भी हार मिली। महामंत्री के पद पर गौरव सिंह बादलने निर्दलीय चुनाव लड़ा और विजय हासिल की। इस पद पर एनएसयूआइ के नवीन कुमार सिंह मिंटू, सामाजिक न्याय मोर्चा (दिनेश यादव गुट) के आदर्श चौधरी, आइसा की अनुपमा चौधरी को हार का सामना करना पड़ा।

 

          संयुक्त सचिव पद पर अंकुश यादव ने निर्दलीय चुनाव लड़ा और विजय हासिल की। आइसा के सक्षम द्विवेदी, सछास के शैलेंद्र मौर्या, एनएसयूआइ के मोहम्मद सूफियान हार गए। सांस्कृतिक सचिव पद पर विजयी सत्यवंत यादव ने सछास के पैनल से चुनाव जीता। एबीवीपी से प्रशांत सिंह समाजसेवी, आइसा से अरविंद कुमार सरोज, सामाजिक न्याय मोर्चा से अब्दुल राफे एनएसयूआइ के रविकांत कुशवाहा चुनाव हार गए।

          साभार: दैनिक जागरण

Comments 

 
#1 DHIRENDRA PRATAP SIN 2016-09-01 17:21
:-) ;-)
Quote
 

Add comment

We welcome comments. No Jokes Please !

Security code
Refresh

youth corner

Who's Online

We have 1729 guests online
 

Visits Counter

750774 since 1st march 2012