Sunday, November 19, 2017
User Rating: / 0
PoorBest 

ekta-kapoor-kumbh
इलाहाबाद। महाकुंभ में फिल्म प्रमोशन के लिए पहुंची एकता कपूर और उनकी टीम को आखिरकार मेला प्रशासन के सामने झुकना ही पड़ा। फिल्म 'एक थी डायन' के प्रमोशन के लिए टीम को मेला क्षेत्र में प्रचार की अनुमति नहीं दी गई। जिसके बाद टीम ने संगम किनारे अरैल सिथत चिदानंद मुनि के आश्रम में मीडिया से बातचीत की। इससे पहले एकता कपूर ने संगम में डुबकी लगाई।


ekta-kapoor-kumbh-poojan
फिल्म की टीम की योजना भव्य तरीके से मेला क्षेत्र में विशेष तांत्रिक साधना करते हुए डायन के मुददे पर डिबेट करने का था लेकिन प्रशासन से कई बार अनुमति मांगने के बावजूद अनुमति न मिलने पर एकता कपूर को इस पूरे मामले में अपना रूखा बदलना पड़ा। एकता कपूर ने कहा कि हम यहां फिल्म प्रचार के लिए नहीं बलिक फिल्म सफलतापूर्वक चले इसके लिए मां गंगा का आशीर्वाद लेने आए है। चिदानंद मुनि के आश्रम में फिल्म की प्रोडयूसर एकता कपूर, फिल्म के सितारे इमरान हाशमी व हुमा कुरैशी पहुंचे थे। गंगा में स्नान के बाद एकता ने चिदानंद मुनि के आश्रम में पहुंच कर आधे घंटे तक विशेष पूजन किया। टीम का इलाहाबाद में तीन दिन रूकने का कार्यक्रम है लेकिन प्रशासन के रूख के चलते टीम को वापस भी जाना पड़ सकता है।

इस मौके पर एकता ने कहा कि वह गंगा में अपने परिवार और फिल्म की सफलता की प्रार्थना करने पहुंची हैं। साथ ही उन्होंने गंगा की हालत पर चिंता जताते हुए कहा कि सरकार को मां गंगा की सफाई के लिए प्रयास करना चाहिए। फिल्म के बारे में ज्यादा कुछ न बताते हुए उन्होंने सिर्फइतना कहा कि फिल्म में डायन को लेकर समाज के नजरिए को दर्शाया गया है। अभिनेता इमरान हाशमी ने कहा कि वह बचपन से ही कुंभ मेले आने की सोच रहे थे और उन्हे खुशी है कि उन्हें यह मौका मिल ही गया।
फिल्म का प्रचार किया तो होगी कार्रवाई

इलाहाबाद के कमिश्नर ने फिल्म प्रमोशन के संदर्भ में चेतावनी दी थी कि एकता कपूर की 'एक थी डायन' फिल्म की पूरी टीम से अगर मेले में कोई समस्या हुई तो सभी को उठाकर बंद कर देंगे। वहीं मेलाधिकारी मणि प्रसाद मिश्र ने कहा कि महाकुंभ मेला क्षेत्र में फिल्म प्रमोशन के लिए उनसे किसी भी तरह की अनुमति नहीं ली गई है। अगर वह किसी संत महात्मा के कैंप में कोई आयोजन करते है तो उन्हें कोई आपतित नहीं है। अगर मेले में किसी तरह का व्यवाधान होगा तो उसपर कार्रवाई की जाएगी। फिल्म के प्रचार को लेकर हो रहे प्रशासनिक विरोध के जवाब में इलाहाबाद के लिए रवाना होने से पहले लखनऊ में ही एकता कपूर ने साफ कह दिया था कि महाकुंभ आम इंसानों को पर्व है तथा वहां वह आम इंसान बनकर ही पहुंचेंगी। उन्हें इसके लिए किसाी की भी अनुमति या सुरक्षा लेने की आवश्यकता नहीं है।

Add comment

We welcome comments. No Jokes Please !

Security code
Refresh

Magh Mela 2014

Who's Online

We have 1501 guests online
 

Visits Counter

749180 since 1st march 2012