Tuesday, November 21, 2017
User Rating: / 0
PoorBest 

 


नई दिल्ली : पूर्व पर्यावरण मंत्री जयंती नटराजन के बीजेपी में जाने की खबरें गर्म हो गई हैं। संभव है कि वह आज ही बीजेपी में शामिल होने का ऐलान कर सकती हैं। बीजेपी के प्रति झुकाव के उनके संकेत उस पत्र में भी मिलते हैं जो उन्होंने नाराजगी में सोनिया गांधी को लिखा था। इसमेंनटराजन ने खुलासा किया है कि उनसे जानबूझकर नरेंद्र मोदी के खिलाफ ऐसे बयान दिलवाए गए जो वह देना नहीं चाहती थीं। 


नटराजन लिखती हैं, 'मुझे लगता है कि मुझ पर दबाव बनाया गया और मुझे ऐसे मुद्दे उठाने को कहा गया जिन्हें मैं गलत मानती थी। एक मामला था जिस पर मुझे बहुत गुस्सा आया था। जब मैं मंत्री थी मीडिया में स्नूपगेट के नाम से मशहूर मामले में मौजूदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करने के लिए बुलाया गया।'

नटराजन कहती हैं कि उन्होंने मोदी पर हमला करने से इनकार कर दिया था। उन्होंने लिखा, 'मैंने शुरुआत में इनकार कर दिया था क्योंकि मुझे लगता था कि पार्टी श्रीमोदी पर नीतियों और गवर्नेंस के आधार पर हमला करना चाहिए और किसी अनजान महिला को विवाद में नहीं घसीटना चाहिए। 16 नवंबर 2013 को श्री अजय माकन ने मुझे फोन किया। तब मैं दौरे पर थी। उन्होंने मुझसे दिल्ली आकर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करने को कहा। मैंने अपनी नाखुशी जाहिर की और बताया कि मैं मंत्री हूं और यह मामला सरकार का रुख नहीं लगना चाहिए। मैंने सुझाव दिया कि पार्टी के आधिकारिक प्रवक्ता को इस पर प्रेस कॉन्फ्रेंस करनी चाहिए। पर माकन ने बताया कि यह फैसला 'उच्चतम स्तर पर' लिया गया है और मेरे पास कोई विकल्प नहीं है।'

नटराजन के मुताबिक माकन ने उनसे कहा कि टीवी चैनलों और बहसों में मोदी पर तीखा हमला किया जाए। नटराजन ने ये सब बातें सोनिया गांधी को लिखे एक पत्र में बताई हैं। क्या लिखा है उन्होंने पत्र में, जानने के लिए यहां क्लिक करें

 

साभार: नव भारत टाइम्स 

 

 

 

 

Miscellaneous

Who's Online

We have 2299 guests online
 

Visits Counter

749686 since 1st march 2012